Header

August 1, 2021

डॉटपे ने ‘फ्री डिलीवरी’ पहल की घोषणा की

मुंबई. स्टारलोकप्रवाह, महामारी के दौरान इन-स्टोर खरीदारी में गिरावट के साथ ऑनलाइन ऑर्डर और रिमोट डिलीवरी कई भारतीय व्यापारियों के लिए कमाई का प्राथमिक स्रोत बन गए हैं। फिर भी अधिकांश भारी कमीशन और डिलीवरी चार्ज को लेकर संघर्ष कर रहे हैं और यह भुगतान सर्विस प्रोवाइडर्स को होता है। इस मुश्किल समय में यह निगेटिव मार्जिन होता है। इस समस्या को हल करने के लिए गुड़गांव स्थित ओ2ओ कॉमर्स प्लेटफॉर्म डॉटपे ने व्यवसायों के लिए एक ‘फ्री डिलीवरी’ पहल की घोषणा की है जिसमें रेस्तरां, किराना स्टोर, एफएंडवी व्यापारी, मांस और पोल्ट्री की दुकानें और कंज्यूमेबल्स बेचने वाले अन्य विक्रेता शामिल हैं।
डॉटपे ऑनबोर्डिंग के समय व्यापारियों से एकमुश्त सदस्यता शुल्क लेना जारी रखेगा, पर इस पहल के एक हिस्से के तौर पर फ्री डिलीवरी का लाभ व्यवसायों की ओर से किए गए प्रारंभिक निवेश को खत्म करने में एक वरदान साबित होगा। सब्सक्रिप्शन पैकेज के आधार पर मर्चेंट 250 तक फ्री डिलीवरी का लाभ उठा सकते हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए कि उपभोक्ता जल्द ही ऑनलाइन शॉपिंग की सुविधा को हाथ से जाने न दें, डॉटपे की पेशकश इंडस्ट्री के लिए किसी वरदान से कम नहीं है।
डॉटपे के सह-संस्थापक और सीईओ शैलाज नाग ने कहा, “यह हमारे देश के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण समय है। कोविड-19 की तीसरी लहर किसी भी समय आ सकती है और लगातार डर में रह रहे वाले लोगों के लिए अपने सेफ ज़ोन से बाहर कदम रखना मुश्किल हो रहा है। ऑनलाइन शॉपिंग उनके लिए एकमात्र राहत लगती है और डॉटपे में हमारा मानना है कि इन स्थानीय व्यवसायों को कठिन समय से बचने में मदद करने का यह हमारा एकमात्र मौका है। हमने हमेशा इस इकोसिस्टम के विकास की दिशा में अपने प्रयास किए हैं और इस वजह से हमने व्यापारियों/रिटेलर्स को फ्री डिलीवरी सेवा प्रदान करने की इस पहल को शुरू किया है।”

Chat on What's Up
Hello , Nmaste