Header

August 1, 2021

किसानो ने भाजपा नेताओं की मीटिंग को लेकर किया भारी विरोध

चंडीगढ़. स्टारलोकप्रवाह, भाजपा पार्टी द्वारा नगर की पंजाबी धर्मशाला मे होने वाली मीटिंग मे सांसद सहित अन्य बड़े नेताओ के आने की भनक जब किसानो को लगी तो विरोध करने किसान नगर की पंजाबी धर्मशाला मे पहुँच गए। धर्मशाला मे पहले से मौजूद पुलिस कर्मियों के साथ किसानो की कहा सुनी हुई और किसान मीटिंग न करने पर अड़ गए तब दोनों पक्षों मे तना तनी हो गई। किसानो को रोकने के लिए पुलिस द्वारा लगाए गए बेरिकेडस को हटाया गया वही किसानो ने भाजपा के बैनर को भी उखाड दिया, नेता और वर्कर किसानो की कारवाही को मुक बन देखते रह गए वही किसानो से पूर्व विधायक विरक् को पुलिस बचा ले गई वही बहुत नेता और वर्कर डर के मारे बिना खाना खाए भाग खड़े हुए ताकि मामला न बिगड़े l मामला बढ़ता देख पुलिस आठ किसानो को पुलिस काबू करके मुनक थाने ले गई . किसान नेताओ द्वारा किसानो की गिरफ्तारी का खूब विरोध किया और थाने के गेट के पास किसानो ने निसीग थाना इंस्पेक्टर ऋषि असंध् इंस्पेक्टर कमलदीप और ड्यूटी मजिस्ट्रेट रमेश कुमार की मौजूदगी मे सरकार के खिलाफ नारे बाजी करके रोष प्रकट किया। काबू किए किसानो को रिहा करने की
पुरजोर मांग की गई, काफी देर जब किसानों ने नारे बाजी जारी रखी तो एसपी के निर्देश पर गिरफ्तार किसानो को छोड़ दिया, उन्हे पुलिस थाने के बाहर लेकर आई तो किसान नेताओ जोगिंदर झिन्डा, गुरमुख सिंह, गुरनाम सिंह चडूनी गुट के मीडिया प्रवक्ता अमृत सिंह, दलविंदर् सिंह मटु, सतबीर सिंह कामरेड आदि द्वारा किसानो का माला डाल कर स्वागत किया और इन किसानो को लेकर सेकड़ो किसानो ने करनाल रोड से रोष प्रकट करते हुए मैन चौक तक सरकार के खिलाफ गुस्सा प्रकट किया l
इस मौके पर किसानो को संबोधित करते हुए किसान यूनियन के नेता जोगिंदर् झिन्डा ने आरोप लगाया कि भाजपा पार्टी किसानो को बर्बाद करने पर तुली हुई है और उनके इलाके मे यदि भाजपा ने कोई जन सभा या मीटिंग की तो भाजपा का पुरा विरोध किया जाएगा । उन्होंने बताया कि भाजपा द्वारा जान बूझकर मीटिंग की जा रही है, हर मीटिंग का किसानो ने किया l किसानो ने पूर्व विधायक को जम कर कोसा और आरोप लगाया कि पूर्व विधायक ही किसानो के दुश्मन बने हुए है।

Chat on What's Up
Hello , Nmaste