June 15, 2021

सरसों के तेल की कीमत 200 रुपये लीटर, भाजपा ज़िम्मेवार : मोहित धीमान

अंबाला.स्टारलोकप्रवाह, आम आदमी पार्टी अम्बाला शहर विधानसभा के युवा अध्यक्ष मोहित धीमान  ने आज कहा कि सरसों के तेल की कीमत 200 रुपये प्रति लीटर हो गयी है, जिसकी जिम्मेदार केंद्र सरकार व उनकी गलत नीतियों का होना है, जिन काले कृषि कानूनों को भाजपा व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ऐतिहासिक बता रहे थे, उन्ही कानूनों की वजह से सरसों तेल की कीमतों का ये हाल हुआ है। क्योंकि अबकी बार प्राइवेट डीलरों ने ही सारी सरसों को तय रेट से ज्यादा मूल्य पर खरीद कर गलत तरीके से स्टॉक कर लिया, सरकारी विभाग हैफेड को अबकी बार सरसों ही नही मिल पाई। अब सरकार के पास सरसों पर्याप्त मात्रा में न होने की वजह से गरीब बीपीएल परिवारों को राशन दुकानों से मिलने वाला सरसो तेल अब नही मिल पायेगा। ये गरीबों के साथ नाइंसाफी होगी। प्राइवेट डीलर खरीदी गई सरसों की जमाखोरी करके तेल की मनमानी कीमत वसूल करेंगे, जिसका अंदेशा हमने पहले भी जताया था। ये हाल तो तब है जब ये कानून लागू भी नही हुए है, लेकिन भाजपा के नए काले कानून अगर लागू होते है तो प्राइवेट डीलरों को ऐसे ही स्टॉक करने की छूट मिल जाएगी, वे एक या दो बार ज्यादा रेट देकर किसान से सारा अनाज खरीदकर, गलत तरीके से स्टॉक कर लेंगे, भंडारण के नए कानून की वजह से उनको पकड़ भी नही पाएंगे, सरकार के पास जो अनाज भारतीय सेना, अगले तीन साल का आपातकालीन स्टॉक, व बीपीएल परिवारों के लिए होता है वो उपलब्ध नही हो पायेगा, जिससे अनाज की कीमतें आसमान छूने लगेंगी, गरीब आदमी को सरकार राशन मुहैया नही करवा पाएगी, फिर गरीब आदमियों के लिए तो भूखे मरने तक की नोबत आ जायेगी। ये इन काले कानूनों के दुष्प्रभाव है। अतः इन काले कानूनों को तुरंत प्रभाव से सरकार रद्द करें ताकि गरीब से गरीब व्यक्ति भी दो वक़्त की रोटी का जुगाड़ कर सके। लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी किसान आंदोलन में किसानों के साथ हर मोर्चे पर खड़ी है व मांग करती है कि सरकार विवादित कानूनों को जल्द से जल्द वापिस लेकर गरीबों को पूंजीपतियों से बचाने का काम करे।
उन्होंने सरसों तेल को बन्द करने के सरकार के फैसले की कड़ी आलोचना भी की और कहा कि इस सरकार ने दाल पहले ही बन्द कर दी थी, चावल बन्द किये, नमक बन्द किया,  मिट्टी का तेल बन्द किया, गेंहू की मात्रा कम करके गर्मी में बाजरा खाने को गरीबों को मजबूर किया, अब सरसों का तेल बन्द करके आखिर सरकार कौनसा विकास करना चाहती है? मोके पर मोजुद हरदीप सिंह  ने कहा  सरकार को स्पष्ट करना चाहिए। भाजपा सरकार गरीब, किसान मजदूर, दलित पिछड़ा व महिला विरोधी पार्टी है, इससे जितना जल्दी हो सके देश व प्रदेश की जनता को छुटकारा पा लेना चाहिए। साथ मे आप पार्टी के जिला सचिव परवीन अगरवाल मोजुद रहे!
Chat on What's Up
Hello , Nmaste