Header

October 18, 2021

कोविड-19 के खि़लाफ़ जंग के दौरान राज्य सरकार की मदद करने के लिए उद्योगों का धन्यवाद: कैप्टन अमरिन्दर

चंडीगढ़. स्टारलोकप्रवाह, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने सोमवार को उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के कामकाज की समीक्षा की और औद्योगीकरण को बढ़ावा देने और पंजाब को देश के औद्योगिक नक्शे के शिखर पर पहुंचाने के लिए पूर्ण सहयोग का विश्वास दिलाया।
उन्होंने पंजाब में मार्च 2017 से अब तक 84,500 करोड़ रुपए का निवेश लाने के लिए इन्वैस्ट पंजाब की बेमिसाल कोशिशों की सराहना भी की, जहाँ से राज्य सरकार की निवेश समर्थकीय नीतियों में निवेशकों द्वारा भरोसा प्रकट करने का प्रगटावा होता है। उद्योग एवं वाणिज्य विभाग की समीक्षा मीटिंग की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि फंड की कमी को विभाग के कामकाज में रुकावट पैदा नहीं करने देंगे। उन्होंने मौजूदा औद्योगिक और व्यापारिक नीतियों में और उदारता लाने पर भी ज़ोर दिया, जिससे राज्य में निवेशकों को आकर्षित किया जाए।
मुख्य सचिव विनी महाजन की विनती पर अमल करते हुए मुख्यमंत्री ने कोविड महामारी के चलते निवेशकों की वर्चुअल बैठक करवाने को मंज़ूरी दी, जोकि संभावित अक्तूबर या नवंबर में करवाई जाए, जिससे निवेशकों/उद्यमियों का पंजाब में निवेश करने के लिए और विश्वास पैदा किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव द्वारा औद्योगिक ईकाइयों में काम करने वाले वर्करों को प्राथमिकता के आधार पर टीकाकरण की दी गई पहल को भी हरी झंडी दी।
कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने उद्योग विभाग को लुधियाना में ऑटो पार्ट उद्योगों के निर्यात को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार की टाईस स्कीम के अंतर्गत ज़रुरी फंड हासिल करने के प्रस्ताव की पड़ताल करने के लिए कहा, जो राज्य में ऑटो पार्ट के निर्माण को आगे बढ़ाएगी। कोविड संकट में राज्य सरकार को सहायता देने के लिए उद्योगपतियों का धन्यवाद करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इन मुश्किल भरे हालातों में कंपनियों द्वारा दिया गया बड़ा योगदान पंजाब के लोगों की जि़ंदगी, स्वास्थ्य और तंदुरुस्ती की रक्षा में अहम रहा है, जिनकी तरफ से अलग-अलग तरीकों जैसे फूड पैकेट, सूखे राशन की किटें, निजी सुरक्षा उपकरण, फेस मास्क, ऑक्सीजन कंसेंट्रेटजऱ्, ऑक्सीजन प्लांट और अन्य बहुत सी कोविड केयर सुविधाएं प्रदान करके सहायता मुहैया करवाई गई।
विचार-विमर्श में हिस्सा लेते हुए उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा ने मुख्यमंत्री द्वारा ज़मीनी स्तर पर 84,500 करोड़ रुपए के रिकॉर्ड निवेश को यकीनी बनाने के लिए किए गए यत्नों की सराहना की। उन्होंने कहा कि पिछली अकाली-भाजपा सरकार द्वारा बड़ी संख्या में समझौते सहीबद्ध किए गए थे, जिनमें से ज़्यादातर ज़मीनी स्तर पर अमल में नहीं आए। उन्होंने यह भी बताया कि मौजूदा सरकार ने राज्य के उद्योगों को अब तक 7000 करोड़ रुपए से अधिक की रियायतें दी हैं। इससे पहले मुख्य सचिव ने कैप्टन अमरिन्दर सिंह को बताया कि कोविड महामारी के कारण बने अभूतपूर्व हालातों के मद्देनजऱ पंजाब के लोगों को अपने राज्य निवासियों द्वारा दान-पुण्य और सहयोग के ज़रिये दिलासा और हौसला दिया गया है। लोगों और कंपनियों दोनों ने कोविड से जंग लड़ रहे व्यक्तियों को हर तरीके से सहायता की पेशकश की है और असाधारण दया भावना प्रकट की है।

Chat on What's Up
Hello , Nmaste